KISHAN VIKAS PATRA: JAI SAI CREDIT CO-OPERATIVE SOCIETY MARYADIT
जय सांई किसान विकास पत्र
भारत एक कृषि प्रदान देश है यहाँ अधिकतर गाँव है भारत की 70 प्रतिशत आबादी गावों में रहती है्, भारतीय किसानो का भारत के औधोगिक विकास पथ में बहुत बड़ा योगदान है!
उनके योगदान को प्रणाम करते हुये जय सांई क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी मर्यादित प्रस्तुत करते है जय सांई किसान विकास पत्र! इस पत्र का मुख्य उद्देश्य किसानों को आर्थिक सेवाएं देकर उनके जीवन में आर्थिक आधार प्रदान करके एक अच्छा जीवन यापन कराने का प्रयत्न कराते है!
जय सांई किसान विकास पत्र के नियम व शर्ते
1. इस पत्र में कम से कम 5000 रूपये की राशि निवेश की जायेगी इससे अधिक राशि 1000 रूपये की गुणात्मक संख्या में ही निवेश की जा सकेगी!
2. परिवर्तित जमीन के कागजात की फोटोकॉपी प्रस्तुत करना आवश्यक है!
3. इस पत्र में परिपक्वता से पूर्व भुगतान की सुविधा उपलब्ध है! 36 माह बाद भुगतान दिया जा सकता है ! सहकारिता के नियमानुसार
4. ऋण सुविधा एक वर्ष बाद जय सांई किसान विकास पत्र जमा राशि का अधिकतम 70% ऋण लिया जा सकेगा! अगर ऋण लेने वाला कभी भी अपनी मासिक तयशुदा किश्त समय पर नहीं चूका पता है तो उसे अगले माह की किश्त पर 3% जुर्माना देना होगा!